Blog Kaise Banaye Step By Step In Hindi (2023)

Hello Winter How Are You I Have A Questionu Will You Come India

हमारे अंदर की राक्षस जो आज हमारे अंदर आ गए हैं उनसे हमारी रक्षा बही कर सकते हैं उसे अपने ध्यान में रखो तो आपकी सारी राक्षसी प्रवृत्ति मिट जाएगी फिर न हिंसा न कुछ ऐसा वैसा जो हमें आज हैं समाज में देखने को मिल रहे हैं जात-पात बुराइयां भ्रष्टाचार जो भी हो यह सब हमारे भीतर का राक्षस ही तो है अब जो राक्षस को ही शरण दे रखा है तो भला भगवान क्या कर सक

Hello Winter How Are You I Have A Questionu Will You Come India

हमारे अंदर की राक्षस जो आज हमारे अंदर आ गए हैं उनसे हमारी रक्षा बही कर सकते हैं उसे अपने ध्यान में रखो तो आपकी सारी राक्षसी प्रवृत्ति मिट जाएगी फिर न हिंसा न कुछ ऐसा वैसा जो हमें आज हैं समाज में देखने को मिल रहे हैं जात-पात बुराइयां भ्रष्टाचार जो भी हो यह सब हमारे भीतर का राक्षस ही तो है अब जो राक्षस को ही शरण दे रखा है तो भला भगवान क्या कर

Hello Winter How Are You I Have A Questionu Will You Come India

हमारे अंदर की राक्षस जो आज हमारे अंदर आ गए हैं उनसे हमारी रक्षा बही कर सकते हैं उसे अपने ध्यान में रखो तो आपकी सारी राक्षसी प्रवृत्ति मिट जाएगी फिर न हिंसा न कुछ ऐसा वैसा जो हमें आज हैं समाज में देखने को मिल रहे हैं जात-पात बुराइयां भ्रष्टाचार जो भी हो यह सब हमारे भीतर का राक्षस ही तो है अब जो राक्षस को ही शरण दे रखा है तो भला भगवान क्या कर सक

Hello Winter How Are You I Have A Questionu Will You Come India

हमारे अंदर की राक्षस जो आज हमारे अंदर आ गए हैं उनसे हमारी रक्षा बही कर सकते हैं उसे अपने ध्यान में रखो तो आपकी सारी राक्षसी प्रवृत्ति मिट जाएगी फिर न हिंसा न कुछ ऐसा वैसा जो हमें आज हैं समाज में देखने को मिल रहे हैं जात-पात बुराइयां भ्रष्टाचार जो भी हो यह सब हमारे भीतर का राक्षस ही तो है अब जो राक्षस को ही शरण दे रखा है तो भला भगवान क्या कर सक

Hello Winter How Are You I Have A Questionu Will You Come India

हरे कृष्णा किसी के दिल में इस पर का आ जाना और फिर कहीं ना कहीं वह सारी कुछ ऐसे काम जैसे किसी न किसी को दुःख पहुंचता हओ वह सारे छोड़ने लगता है तो कहीं ना कहीं वह हमारी रक्षा ही तो कर रहे हैं उसके यहां जाने से हम रहे या छोड़ रहे हैं राक्षस जैसे आचरण छोड़ते हैं तो यह रक्षा ही तो हुई पर हम नहीं समझ पाते कहते हैं कि हमारी रक्षा कहां करते हैं

मेरे लिए इश्वर की रक्षा का मतलब जिसने अपने अंदर ईश्वर को ईश्वर के रूप में माना है उसने अपने अंदर के रावण को भगाया है

हमारे अंदर की राक्षस जो आज हमारे अंदर आ गए हैं उनसे हमारी रक्षा बही कर सकते हैं उसे अपने ध्यान में रखो तो आपकी सारी राक्षसी प्रवृत्ति मिट जाएगी फिर न हिंसा न कुछ ऐसा वैसा जो हमें आज हैं समाज में देखने को मिल रहे हैं जात-पात बुराइयां भ्रष्टाचार जो भी हो यह सब हमारे भीतर का राक्षस ही तो है अब जो राक्षस को ही शरण दे रखा है तो भला भगवान क्या कर सक

क्या इस वर्ष कुछ नया कर पाएंगे 

  • जय श्री राम
  • जय बालाजी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *